Actions

पुष्यमित्र

From जैनकोष



  1. मगधदेश की राज्य वंशावली के अनुसार यह शक जाति का सरदार था। जिसने मौर्य काल में ही मगध के किसी भाग पर अपना अधिकार जमा लिया था। तदनुसार इनका समय वी.नि.२५५-२८५ (ई.पू. २७१-२४६) है। विशेष ( देखें - इतिहास / ३ / ४ )
  2. म.पु./७४/७१ यह वर्धमान भगवान् का दूरवर्ती पूर्व भव है - देखें - वर्धमान।

Previous Page Next Page