ज्ञानाचार

From जैनकोष



सिद्धांतकोष से

देखें आचार


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ


पुराणकोष से

पंचविध चारित्र का एक भेद । इसमें आठ दोषों (शब्द, अर्थ आदि की भूलों) से रहित सम्यक्ज्ञान प्राप्त किया जाता है । महापुराण 20.173, पांडवपुराण 23.55-56


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ